भारतीय शिक्षा आयोग (कोठारी आयोग)

भारतीय शिक्षा आयोग (1964-1968) इसका अन्य नाम कोठारी आयोग भी है ।

Indian Education Commission or Kothari Commission.
भारतीय शिक्षा आयोग को कोठारी आयोग के नाम से भी जाना जाता है। यह आयोग भारतीय सरकार द्वारा डॉ डीएस कोठारी की अध्यक्षता में नियुक्त किया गया था। इस आयोग का प्रमुख उद्देश्य शिक्षा के विकास तथा सिद्धांत के बारे में भारत सरकार को सुझाव देने थे।

इसके कुछ सुझाव निम्नलिखित हैं :-

  • विज्ञान की शिक्षा पर बल दिया जाए
  • कार्य अनुभव को सभी प्रकार के सामान्य अथवा व्यावसायिक शिक्षा का अंग बनाया जाए
  • सार्वजनिक शिक्षा के लिए सामान्य स्कूल प्रणाली आरंभ की जाए
  • स्कूल और उचित स्तर पर शिक्षा की होनी चाहिए
  • निर्देशन एवं विचार विनिमय (Guidance and Counseling) को शिक्षा का अंग बनाया चाहिए
  • पुस्तकों के चयन में बहुलता (Multiple) दी जाए
  • मूल्यांकन की नई तकनीकी (Technique) अपनाए जाए
  • आंतरिक मूल्यांकन (Internal Assessment) को महत्वपूर्ण स्थान दिया जाए
  • वर्तमान शिक्षण प्रणाली की कठोरता को खत्म किया जाए
  • स्कूल वर्कशॉप का प्रयोग करना तथा कार्य अनुभव के कार्यक्रम प्रस्तुत करना

3 thoughts on “भारतीय शिक्षा आयोग (कोठारी आयोग)”

  1. Pingback: INDIAN History SSC/BANK PO/RAILWAY/PART-1 - CTET & UPTET

  2. Pingback: INDIAN HISTORY FOR UPSC/UPPSC/SSC CGL PART-2 - CTET & UPTET

  3. Pingback: प्रथम पीढ़ी शिक्षार्थी की समस्या व समाधान - CTETPoint

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *